08 May, 2021

Benefits fo Eggs || अंडा खाने के फायदे ||

Benefits fo Eggs ||  अंडा खाने के फायदे  || 

अण्डा एक ऐसा पोषक तत्व है, जो हमारे शरीर को स्वस्थ रखने में काफी महत्वपूर्ण होता है। शरीर को स्वस्थ रखने के लिए कई महत्वपूर्ण पोषक तत्वों की आवश्यकता होती है, इन पोषक तत्वों की जरूरत को आहार के माध्यम से पूरा किया जा सकता है। आहार में अण्डे का सेवन करके शरीर को पोषित (Benefits fo Eggs) बनाया जा सकता है। अण्डा शरीर को मानसिक और शारीरिक लाभ पहूॅचाने में मददगार साबित होता है। यह कई पोषक तत्वों से परिपूर्ण होता है। लेख में अण्डा खाने और इससे होने वाले नुकसान के बारे में दर्शाया गया है, जिसकी साझा भी की गयी है।

Benefits fo Eggs
Benefits fo Eggs

जानें अण्डा खाना सेहत के लिए क्यों अच्छा होता है-

1. अण्डा सेवन से शरीर को क्या-क्या पोषक तत्व मिलता है-

2. अण्डा से होने वाले फायदे-

3. अण्डे से मिलने वाले पौष्टिक तत्व-

4. अण्डे का उपयोग-

5. अण्डे का सफेद और पीला भाग कौन ज्यादा फायदेमन्द होता है-

6. अण्डे से होने वाले नुकसान-


1. अण्डा सेवन से शरीर को क्या-क्या पोषक तत्व मिलता है-

अण्डे में पोषक तत्वों की अधिकता होती है, इसलिए अण्डे का सेवन शरीर की सेहत के लिए काफी लाभकारी हो सकता है। अण्डे में मुख्यतः प्रोटीन, आयरन, विटामिन ए, बी 6, बी 12, एमिनो एसिड, फोलेट, सेलेनियम और फास्फोरस पाये जाते है, जो शरीर को स्वस्थ रखने में महत्वपूर्ण होता है।


2. अण्डा से होने वाले फायदे-

अण्डा खाने से नीचे लेख में बताई गयी कई फायदे हो सकते है, लेकिन शारीरिक समस्या का इलाज नही है। यह सिर्फ शरीर की जोखिम को कम करने या बचाव में मददगार हो सकता है-(Benefits fo Eggs)


1-हड्डियों की मजबूती के लिए-निर्धारित समय तक प्रतिदिन अण्डा सेवन (NCBI के अनुसार) करने से हड्डियों में मजबूती आ सकता है और हड्डियों की बीमारियों के जोखिम को कम कर सकता है। अण्डे में मौजूद विटामिन-डी, प्रोटीन और कैल्शियम की भूमिका अहम हो सकती है।

2-आंख के लिए फायदेमन्द-अण्डे में मौजूद विटामिन आंखों की रोशनी को बढ़ावा दे सकता है। मैक्यूलर डिजनरेशन (आंखों की पुतली से जूड़ी समस्या) की समस्या को रोकने में मदद कर सकते है। उबला हुआ अण्डा खाने से फायदेमन्द हो सकता है।

3-अण्डे से वजन कम हो सकते है-अण्डे के सेवन के साथ-2 अपने दिनचर्या में व्यायाम को भी शामिल कर सकते है, जिससे की आपकी वजन को नियंत्रित करने में मददगार साबित हो सकता है। वजन को नियंत्रित रखने और कम करने में अण्डे को सेवन मददगार साबित हो सकता है।

4-मस्तिष्क की मजबूती के लिए-कहा जा सकता है कि अण्डा खाने के फायदे मस्तिष्क स्वास्थ्य पर पड़ सकते है। इसमें मानें तो विटामिन और मिनरल होते है, जो मस्तिष्क, तंत्रिका तंत्र और याद्दाश्त के लिए कोशिकाओं को ठीक तरह से कम करने में मदद कर सकते है। अण्डा मस्तिष्क के लिए काफी बेहतरीन माना जाता है। ऐसा माना जाता है कि अण्डा मस्तिष्क की कार्यक्षमता को बढ़ाने का कार्य करता है। यह नर्वस सिस्टम की तंत्रिका तंत्र को स्वस्थ रखने का कार्य करता है।


3. अण्डे से मिलने वाले पौष्टिक तत्व-(Benefits fo Eggs)

अक्सर आप जानने की कोशिश करते है कि अण्डे में क्या-क्या पाया जाता है। आपको बता दें कि अण्डे में कौन-कौन से पोषक तत्व पाये जाते है, जिससे कि शरीर को काफी स्वस्थ रखता है, जैसे-ऊर्जा, प्रोटीन, टोटल लिपिड (फैट) कार्बोहायड्रेट, फाइबर, शुगर, कैल्शियम-Ca, सोडियम-Na, कोलेस्ट्रोल इत्यादि पाये जाते है।


4. अण्डे का उपयोग-

अण्डे का उपयोग कुछ ही लोगों को पता रहता है, जो हम नीचे लेख में अण्डे का उपयोग के बारे में अलग-2 तरीके से बताने जा रहे है। (Benefits fo Eggs)

अण्डे कैसे खाएं-

  • अण्डे का भूर्जी बनाकर खा सकते है।
  • अण्डे को उबालकर खाया जा सकता है।
  • अण्डे को आमलेट बनाकर खा सकते है।
  • अण्डारोल बनाकर खाया जा सकता है।
  • अण्डे को ब्रेड के साथ आमलेट बनाकर खा सकते है।
  • अण्डा करी बनाकर रोटी या चावल के साथ खा सकते है।
  • केक बनाने के लिए अण्डे का उपयोग किया जा सकता है।
  • अण्डा फ्राइड राइस के रूप में सेवन कर सकते है।
  • अण्डा बर्गर बनाया जा सकता है।
  • अण्डा बिरयानी बनाकर खा सकते है।

अण्डा कितना खाया जा सकता है-

फिलहाल अण्डे का सेवन कोई सटीक वैज्ञानिक प्रमाणित नही है कि रोजाना कितना खाया जाय। इसे हम उम्र और हेल्थ को ध्यान में रखते हुए निर्धारित कर सकते है, जैसे-बुजुर्गो एवं बच्चों को एक-एक अण्डा दिया जा सकता है, वैसे-अण्डे का उचित मात्रा में सेवन करने के लिए किसी आहार विशेषज्ञ से विचार-विमर्श कर सकते है।


अण्डा कब खाया जा सकता है-

  • सुबह या शाम को जिम के बाद अण्डे को उबालकर खा सकते है।
  • अण्डे को आमलेट बनाकर सुबह नाश्ते में सेवन कर सकते है।
  • लंच में अण्डा फ्राइड राइस, अण्डा करी या बिरयानी का सेवन कर सकते है।


5. अण्डे का सफेद और पीला भाग कौन ज्यादा फायदेमन्द होता है- (Benefits fo Eggs)

Benefits fo Eggs
Benefits fo Eggs

अक्सर आप सोचते होंगे कि अण्डे का सफेद भाग सबसे ज्यादा फायदेमन्द होता है कि पीला भाग फायदेमन्द होता है, जो नीचे लेख में निम्नवत है-(Benefits fo Eggs)

1-अण्डे का सफेद भाग-अण्डे के सफेद भाग में भरपुर मात्रा में अमिनो एसिड, विटामिन और प्रोटीन होते है, जो शरीर को स्वस्थ रखने के लिए जरूरी होता है। ऐसे में कहा जा सकता है कि अण्डे का सफेद भाग शरीर के लिए ज्यादें फायदेमन्द हो सकता है। 

2-अण्डे का पीला भाग-अण्डे के पीले भाग में कोलेस्ट्रोल और फैट की मात्रा अधिक होता है। अण्डे के पीले भाग को खाने से शरीर में कोलेस्ट्रोल की मात्रा बढ़ जाती है। इसलिए इसकी सेवन कम करना चाहिए।


6. अण्डे से होने वाले नुकसान-

  • अण्डे के फायदे और नुकसान इस बात पर निर्भर करता है कि अण्डे को कितना और कैसे खाया जा सकता है।
  • जिन्हें मधुमेह और हृदय रोग की समस्या है, उन्हें अण्डे के अधिक सेवन से बचना चाहिए। अण्डे की अधिक मात्रा में सेवन करने से ऐसे मरीजों की स्थिति को गम्भीर बना सकता है।
  • अण्डे को ठीक तरह पकाये बिना सेवन करने पर उल्टी और दस्त हो सकती है।
  • अण्डे में कोलेस्ट्रोल की मात्रा ज्यादा पायी जाती है। इसलिए ज्यादा सेवन करने पर हृदय रोग के जोखिम बना रहता है।
  • अण्डे से होने वाले नुकसान में एलर्जी भी शामिल है। अण्डे के सेवन से कई लोगों को एलर्जिक रिएक्शन भी हो जाता है।


यह लेख पढ़ने से आप जान गयें होंगे कि अण्डे खाने से शरीर को कितना फायदा व कितना नुकसान हो सकता है। इसके सेवन से सिर्फ रोग को दूर रखने और इलाज में मदद मिल सकता है, लेकिन आप ये न समझें कि अण्डे सेवन से किसी बीमारी का सटीक इलाज है। अगर कोई किसी तरह के गम्भीर समस्या से ग्रसित है तो वह डाक्टर के सलाह के बिना अण्डे का सेवन न करें। हम उम्मीद करते है कि यह लेख आपके लिए उपयोगी साबित होगा।


No comments:

Post a Comment