25 June, 2020

Yoga for Weight Loss || वजन घटाने के लिए योग || योग की विशेषताएं-

yoga for weight loss ll वजन घटाने के लिए योग-
Yoga for Weight Loss
Yoga for Weight Loss

                योग सही तरीके से जीने का एक वैज्ञानिक तरीका है और दैनिक जीवन में इसे ढ़ालना चाहिए। यह जीवन से जुडे़ मानसिक, भावनात्मक, आत्मिक और अध्यात्मिक पहलुओं पर काम करता है। योग का अर्थ है व्यवहारिक स्तर पर, योग शरीर, मन और भावनाओं को संतुलित करने और तालमेल बनाने का एक साधन है। योग सबसे पहले लाभ पहुॅचाता है, बाहरी शरीर को, जो ज्यादात्तर लोगों के लिए एक व्यवहारिक और परिचित शुरूआती का जगह है। जब शरीर स्तर पर असंतुलन का अुनभव होता है तो अंग, मांस पेशियाॅ और नसें काम करना बन्द कर देती है। जिन्दगी के तनाव और बातचीत के परिणाम स्वरूप बहुत से लोग अनेक मानसिक परेशानियों से पिड़ित रहते है। योग एक ऐसा साधन है कि इलाज के रूप में तुरन्त तो काम नही करता है, लेकिन अनेक परेशानियों के मुकाबले में बेहद महत्वपूर्णांत्मक सिद्ध प्रदान करता है। योग प्राचीन समय में बहुत प्रसिद्ध और प्रचलित था, लेकिन योग के सही ज्ञान के बारे में अब लगातार लोगों की रूचि बढ़ रही है। सभी प्रकार के योग करने से हमारे शरीर में जो काफी मात्रा में तेल होते है, उसे ख़त्म कर देता है और हमारा पूरा शरीर स्वस्थ होने लगता है l


योग के फायदे-

Yoga for Weight Loss
Yoga for Weight Loss


           शारीरिक और मानसिक उपचार योग के सबसे अधिक फायदे में से एक है। योग के फायदे में जैसे-रक्तचात, गठिया, पाचन क्रिया एवं अन्य बीमारियों से छुटकारा दिलाता है और शरीर को स्वस्थ्य, सुन्दर और फुर्तिला बनाकर रखता है। योग बुरी आदतों को खत्म कर देता है। योग ज्यादात्तर उन लोगों के लिए है, जो लोग दिनभर कुर्सी पर बैठें रहते है। ज्यादात्तर कुर्सी पर बैठने वाले लोगों से मैं यह कहना चाहुॅगा कि आप अपने दैनिक जीवन में योग, व्यायाम एवं सही खान-पान को अपनाएं। इससे आपके मन, मानसिक और शरीर स्वस्थ्य रहेगा।


23 June, 2020

Kachi haldi ke fayde aur nuksan || कच्ची हल्दी के फायदे और नुकसान

 Kachi haldi ke fayde aur nuksan ll कच्ची हल्दी के फायदे और नुकसान

हल्दी रसोई में रखे कई मसालों में से एक मसाला है, जिसके बिना आपका भोजन नीरस और फीका हो जाएगा। दुनिया में हल्दी की लगभग सत्तर किस्में हैं। इनमें से लगभग तीस किस्में हमारे देश में उगाई जाती हैं। हल्दी हमारे आहार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है, लेकिन क्या आप जानते हैं कि हल्दी में कई औषधीय गुण भी होते हैं।अदरक की तरह हल्दी भी पौधे के कंद की गांठों से प्राप्त की जाती है। एक विशेष क्रिया द्वारा हल्दी में पर्याप्त रंग और गंध पैदा की जाती है। गांठ को पहले पानी में उबाला जाता है जब तक कि वे नरम न हो जाएं। चमकीले रंग के लिए सोडा या चूना मिलाकर पानी को क्षारीय किया जाता है। यदि अच्छी तरह से पके हुए गांठों को पॉलिश किया जाता है तो हल्दी पाउडर को पीसकर बनाया जाता है। हल्दी पीले रंग की वजह से एक रंग है, जिसे कर्क्यूमिन कहा जाता है। Kachi haldi ke fayde aur nuksan

Kachi haldi ke fayde aur nuksan
Kachchi Haldi

100 ग्राम हल्दी में लगभग 6.3 ग्राम प्रोटीन होता है। जबकि ऊर्जा लगभग 349 किलो कैलोरी है। लेकिन पोषण की दृष्टि से, हल्दी का अधिक महत्व नहीं है क्योंकि दिन भर में हमारे भोजन में हल्दी की मात्रा केवल 2 से 5 ग्राम है। हल्दी एक महत्वपूर्ण औषधि है। लेकिन अक्सर लोग जानकारी के अभाव में इसका पूरा फायदा नहीं उठा पाते हैं।

हल्दी से होने वाले नुकसान के बारे में संक्षेप में जानना भी महत्वपूर्ण है,

अगर आपको पित्ताशय की कोई समस्या या पित्ताशय की समस्याएं हैं, तो हल्दी वाला दूध आपकी समस्या को और बढ़ा देगा।
सर्जरी के दौरान, 

रक्तस्राव की समस्या के दौरान, 

मधुमेह की स्थिति में, 

लोहे के अवशोषण के दौरान

11 June, 2020

Yoga Tips || Eight easy ways to exercise व्यायाम करने के आठ आसान तरीके

Yoga Tips || Eight easy ways to exercise व्यायाम करने के आठ आसान तरीके

रोजाना दस मिनट का व्यायाम बीमारियों से लड़ने की शक्ति को ४० फीसदी तक बढाता है | (Eight easy ways to exercise व्यायाम करने के आठ आसान तरीके)

Yoga Tips || Eight easy ways to exercise
Yoga Tips

1. हर दिन सुबह-सुबह 10 मिनट की जांगिंग कई घंटो तक आपमें चुस्ती बरक़रार रख सकती है| यह ध्यान रखें कि व्यायाम को मौजमस्ती में करें यानी उसे बोझ समझकर न करें|
2. दफ्तर की सीढियाँ चढ़ना, उतरना तथा पार्किंग स्थल से दफ्तर तक पैदल चलना भी तरोताजा रखने वाला व्यायाम हैं|
3. अगर बाहर जाकर व्यायाम करना संभव न हो तो संगीत की धुन पर 10 मिनट तक डांस करें |
4. प्रातः उठते ही खूब पानी पियें, दोपहर भोजन के थोड़ी देर बाद छांछ और रात को सोने के पहले उष्ण दूध अमृत समान हैं |
5. बुखार, थकान, कमजोरी महसूस करने की स्थिति में व्यायाम से बचें |
6. ध्यान रखें, जहाँ व्यायाम करें वहां शांति हो, जगह साफ-सुथरी हो, प्राकृतिक हवा हो और पर्याप्त प्राकृतिक रोशनी हो |
7. व्यायाम के समय बातचीत न करें, व्यायाम के समय चुप रहने से फेफड़ो की क्षमता बढती हैं |
8. व्यायाम का समय बढ़ाना हो तो धीरे-धीरे बढ़ाएं, एकदम से समय बढाने से थकान, कमजोरी की शिकार हो सकतें हैं |



Yoga Tips || Eight easy ways to exercise
Yoga Tips
कुछ और योग ज्ञान 
Mayurasan मयुरासन 


Yoga Tips || Eight easy ways to exercise
Yoga Tips